Featured Video Play Icon

संसद मैंबर धर्मवीर गांधी ने पानी के मुद्दे पर पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट में पटीशन की दायर

पटियाला से संसद मैंबर धर्मवीर गांधी ने पानी के मुद्दे पर बुद्धवार को पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट में पटीशन दायर की। यहां जारी बयान में धर्मवीर गांधी ने कहा कि पंजाब के कुदरती साधन से मिलने वाले पानी को बिना कोई कीमत लिए दूसरे सूबों को देकर पंजाब को कंगाल किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पानी की समस्या के लिए कांग्रेस के साथ-साथ अकाली दल भी जिम्मेदार है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने शुरू से ही पंजाब के साथ अन्याय किया है। गांधी ने कहा कि पंजाब के किसानों को ट्यूबवैलों पर निर्भर बना कर कर्ज के जाल में फंसा दिया गया है और उन्हें आत्महत्याएं करने के लिए मजबूर किया गया है। उन्होंने कहा कि आज धरती निचला पानी तेजी के साथ घटता जा रहा है और करीब आधा आधा पंजाब डार्क जोन में आकर बंजर बनता जा रहा है। डा. गांधी ने दरियाई पानी के मामले में रिपेरियन सिद्धांतों की वकालत भी की। उन्होंने कहा कि 1976 में इमरजेंसी दौरान इंद्रा गांधी ने पंजाब के साथ धक्केशाही की है। पंजाब के पास बचते 72 लाख एकड़ फुट पानी में से 35 लाख एकड़ फुट हरियाणा को और दो लाख एकड़ फुट दिल्ली को दिया गया। इसी तरह 1982 में एक गैर जरूरी समझौता दरबारा सिंह पर दबाव डाल कर किया गया था। डा. गांधी ने पंजाब में से गुजरते दरियाओं के पानियों पर पंजाब का अधिकार कायम करने की मांग की है।


Was This Post Helpful:

0 votes, 0 avg. rating

Share:

National Buzz.in

Leave a Comment